Spiritual Stories

साथियों नमस्कार

आध्यात्मिक कहानियां ( Spiritual Stories ) का हमारी ज़िन्दगी में खास महत्त्व होता है | आध्यात्मिक कहानियों में Moral Stories , Motivational Stories , Inspirational Stories का समावेश होता है |  हिन्दू धर्म में  36 करोड़ देवी देवताओं को पूजा जाता जाता है | हर देवी-देवता को अपनी खास शक्ति के लिए जाना जाता है| जैसे, धन की देवी लक्ष्मी, बुद्धि की देवी सरस्वती, बल के देवता हनुमान आदि ! हर देवी-देवता की इन शक्तियों के पीछे कई सारीआध्यात्मिक कहानियां (Spiritual Stories) होती है, जिनसे हम बहुत कुछ सीखकर हमारी ज़िन्दगी को और बेहतर बना सकते हैं |

हमारी वेबसाइट Hindi Short Stories भी यही चाहती है,कि हमारे पाठकों भी इन आध्यात्मिक कहानियों (Spiritual Stories) से कुछ सीखें और अपनी ज़िन्दगी को और खास बनाए |

धन्यवाद !!

Best Hindi Dharmik Kahani | मन्नत

Best Hindi Dharmik Kahani

आदरणीय पाठक, आज के इस अंक में हम आपके लिए लेकर आएं हैं एक ऐसी कहानी “Best Hindi Dharmik Kahani | मन्नत” जिसे पढ़कर आप हिन्दू संस्कृति और हिंदुत्व को और भी बारीकी से जान पाएँगे| आपको यह कहानी कैसी लगती है हमें “Comment Section” में ज़रूर बताएं| Best Hindi …

Read More »

Vedavati | वेदवती की कथा

Vedavati | वेदवती की कथा

साथियों नमस्कार! आज हम आपके लिए हमारे वैद-पुराणों की एक ऐसी कथा “वेदवती की कथा | Vedavati in Hindi” लेकर आएं हैं जिसे पढ़कर आप अपने आपको भारतीय होने पर गोरवान्वित महसूस करेंगे| यह कथा हमें भेजी है पीयूष गोएल ने| आपको हमारा यह संकलन कैसा लगता है हमें Comment …

Read More »

Hindi Story | भगवान का सत्कार

Hindi Story

Hindi Story | भगवान का सत्कार दोस्तों एक बार फिर आपके बिच एक और नई कहानी “Hindi Story | भगवान का सत्कार “के साथ हाज़िर हैं! क्या कभी आपने सोचा है की कभी अगर भगवान् खुद आपके घर भोजन कने आए तो क्या होगा| जी हाँ, आज की हमारी कहानी …

Read More »

पंच रत्न | Hindu Mythology Stories

Hindu Mythology Stories

पंच रत्न | Hindu Mythology Stories हिन्दू ध्रर्म (hindutva) विश्व का सबसे प्राचीन धर्म है| सदियों से हिन्दू धर्म में कई कहानिया, किस्से चलें आएं है जो हमें कहीं ना कहीं जीवन के किसी न किसी पड़ाव में कोई न कोई शिक्षा जरुर दे जाते हैं| उन्हीं कुछ किस्से कहानियों …

Read More »

राजा विक्रमादित्य | Vikramaditya Stories in Hindi

Vikramaditya Stories

राजा विक्रमादित्य | Vikramaditya Stories in Hindi भैया एक बात तो है! भारत में राजा महाराजा ऐसे रहें हैं, की आज भी उनके किये गए काम और उनकी कही गई बाते कायम है| कहते हैं की इन्सान अपनी गलतियों से ही सीखता है, लेकिन अगर कोई इन्सान अपनी गलतियों से …

Read More »

कृष्ण सुदामा | Krishna Sudama Story

Krishna Sudama Story in Hindi

कृष्ण सुदामा | Krishna Sudama Story मित्रता या फिर यूँ कहें दोस्ती ! एक एसा बंधन है जो हमें बाकि सभी रिश्तों की तरह जन्म से नहीं मिलता| यह एक एसा रिश्ता है जो इन्सान जन्म लेने के बाद खुद बनाता है| पुरानों में दोस्ती की कई कहानियां कही गई …

Read More »

दानवीर कर्ण Danveer Karna Story in Hindi

दानवीर कर्ण Danveer Karna Story in Hindi

दानवीर कर्ण Danveer Karna Story in Hindi कर्ण के बारे में महाभारत और पुरानों में कई कहानियां है जहाँ कर्ण को दानवीर कर्ण (दानवीर कर्ण Danveer Karna Story in Hindi) कहा गया है| इस कहानी में आप जानेंगे की क्यों श्री कृष्ण ने कर्ण को दानवीर कर्ण कहा है|               …

Read More »

गिलहरी का योगदान-Spiritual Story in Hindi

Yogdan-Spiritual Story

गिलहरी का योगदान-Spiritual Story in Hindi पढ़िए गिलहरी की शरीर पर दिखने वाली धारियों के पीछे की पूरी कहानी, रामायण (Ramayan) के इस अंश से! यह कहानी तब की है जब भगवान् राम (Ram) माँ सीता को दुष्ट रावण (Ravan) के चंगुल से छुड़ाने के लिए लंका तक जाने के …

Read More »

Vrindavan ki Sachi Ghatna | बिहारी जी किसी का उधार नही रखते

Vrindavan ki Sachi Ghatna

साथियों नमस्कार, आज हम आपके लिए वृन्दावन धाम के एक ऐसे चमत्कार की कहानी “Vrindavan ki Sachi Ghatna | बिहारी जी किसी का उधार नही रखते” बताने जा रहे हैं जिसे पढ़कर आप भी आश्चर्यचकित हो जाएँगे| Vrindavan ki Sachi Ghatna | बिहारी जी किसी का उधार नही रखते एक …

Read More »

केदारनाथ-जागृत महादेव|Kedarnath-Mahadev Spiritual Story In Hindi

Kedarnath-Mahadev

केदारनाथ-जागृत महादेव|Kedarnath-Mahadev Spiritual Story In Hindi केदारनाथ को क्यों कहते हैं ‘जागृत महादेव’ ?  दो मिनट की ये कहानी रौंगटे खड़े कर देगी! एक बार एक शिव-भक्त अपने गांव से केदारनाथ धाम (Kedarnath Dham) की यात्रा पर निकला। पहले के ज़माने में यातायात सुविधाएँ ना होने के कारण, वह पैदल ही …

Read More »