Hindi Short Stories » Romantic Poem in Hindi – बड़े दिनों बाद

Romantic Poem in Hindi – बड़े दिनों बाद

  • SHAYARI

साथियों नमस्कार, आज हम आपके लिए ऐसी दो प्रेम कविताएँ Romantic Poem in Hindi लेकर आएं हैं जिन्हें पढने के बाद आप भी प्रेम के सागर में गोते लगाने लग जाएँगे| लीजिए पेश है…


Romantic Poem in Hindi – बड़े दिनों बाद

बड़े दिनों बाद, फ़ोन  पर हम दोनों देर तक खामोश रहे..
लफ्ज़ सरे गायब थे, पर बातें हजारों हो गई!

बड़े दिनों बाद, बाँहों में एक दुसरे की,हम मदहोश रहे…

नशे का आलम ना था,  पर होंश हम खो बेठे!

Romantic Poem in Hindi

बड़े दिनों बाद, आँखों में हम एक दुसरे की देखते रहे..
बात एक ना हुई, पर दिल के हाल बयां कर बेठे!

बड़े दिनों बाद कहा एक दुसरे से हमने, कि जीना है साथ…
पता ही ना चला, कब जान हम गवां बेठे!

बड़े दिनों बाद…..


चाहत | हिंदी कविता

तेरा साथ होकर भी ना होने को महसूस कर पा रहा हूं।

तेरे प्यार को अपनी सांसों में निभाता सा जा रहा हूं

है तेरा वजूद मेरे पास बस इसे दिल में समां पा रहा हूं।

तुझे खुद में बसाने की बस चाहत कर पा रहा हूं।।

.

तेरा प्यार है मेरे पास बस ये जान पा रहा हूं

इस प्यार को में ख्वाब समझ ना भूल पा रहा हूं

ना दिल की ना खुद की में सुन पा रहा हूं

तुझ में ही बस तुझ में, मै खोता जा रहा हूं

.

तेरी आवाज की मिठास को ना पी पा रहा हूं

हूं पास या हू तेरे मै ना जान पा रहा हूं

चाह कर भी तेरा मैं ना हो पा रहा हूं

यही हालत है तेरी भी ये भी मैं जान पा रहा हूं

.

आखें बंद कर के भी तुझको में देख पा रहा हूं

एक अजीब सा अहसास दिल में गुदगुदा पा रहा हूं

आखें बंद करके भी तुझको मै देख पा रहा हूं

तेरा ही बस तेरा मै होता जा रहा हूं।।


साथियों आपको “Short Moral Story” हमारा यह आर्टिकल कैसा लगा हमें कमेंट सेक्शन में ज़रूर बताएं और हमारा फेसबुक पेज जरुर LIKE करें|

साथियों अगर आपके पास कोई भी रोचक जानकारी या कहानी, कविता हो तो हमें हमारे ईमेल एड्रेस hindishortstories2017@gmail.com पर अवश्य लिखें!

अब आप हमारी कहानियों का मज़ा सीधे अपने मोबाइल में हमारी एंड्राइड ऐप के माध्यम से भी ले सकते हैं| हमारी ऐप डाउनलोड करते के लिए निचे दी गए आइकॉन पर क्लिक करें!

यह भी पढ़ें:-

Love Poem in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *