Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर

Hazara Rama Temple
Share with your friends

साथियों नमस्कार, आज हम आपके लिए रामायण काल से महत्त्व रखते एक ऎसे मंदिर “Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर” के बारे में बताने जा रहें हैं जिसके बारे में जानकर आपको हिन्दू संस्कृति पर गर्व होगा। आइये जानते हैं हज़ारा राम मन्दिर के बारे में…


Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर

हज़ार राम मन्दिर अथवा ‘हज़ारा राम मन्दिर’ हम्पी, कर्नाटक में स्थित है। ये मंदिर प्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थलों में से एक है। हम्पी में बहुत सी ऐसी जगह है जो पर्यटकों को आकर्षित करती है। पर्यटकों को लुभाने वाली हम्पी की ये सारी जगह अपने गौरवशाली इतिहास को दर्शाते है।

ये सभी पर्यटन स्थल विश्व विरासत स्थलों की सूची में शामिल हैं। इस मंदिर का निर्माता राजा कृष्णदेव राय को कहा जाता है।’हज़ार राम मन्दिर’ हम्पी के राजा का निजी मन्दिर माना जाता है।

इस मंदिर का इस्तेमाल केवल समारोहों के लिए किया जाता था और ये श्रद्धालुओं के बीच अपनी निम्न अदभुत नक्काशीदार मूर्तियों के लिए प्रसिद्ध है । ये नक्काशीदार मूर्तियां रामायण में घटि महत्वपूर्ण घटनाओं का प्रतिनिधित्व करती हैं।यह मंदिर भगवान विष्णु को समर्पित हम्पी क्षेत्र के सबसे लोकप्रिय मंदिरों में से एक है।

इस मंदिर, या अधिक सटीक रूप से इसकी दीवारों को देखने पर सबसे पहले जो बात दिमाग में आती है, वह है हिंदू पौराणिक कथाओं, रामायण की स्थानीय रूप से लोकप्रिय कॉमिक स्ट्रिप्स। लेकिन अंतर यह है कि इस मंदिर की दीवारों पर लंबी-लंबी सरणियों में कहानियां खुदी हुई हैं। यह हम्पी के मापदंड से बहुत बड़ा मंदिर नहीं है। लेकिन शाही क्षेत्र के केंद्र में स्थित इस मंदिर की कुछ ख़ासियतें हैं।

सबसे पहले यह राजा के लिए, या अधिक से अधिक, शाही परिवार के लिए एक निजी मंदिर के रूप में कार्य कर रहा था। इस मंदिर के महत्व का अंदाजा शाही क्षेत्र में इसके नोडल स्थान से लगाया जा सकता है। गढ़ के भीतर विभिन्न स्थानों के लिए आपके रास्ते इस मंदिर के एक कोने पर मिलते हैं।


Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर की दीवारें कुछ कहती है –

इस मंदिर की दीवारों पर, लंबी सरणियों में, कहानियां खुदी हुई हैं। मंदिर की बाहरी दीवारों पर (बाहरी कमरों की छतों के ठीक नीचे) हाथी, घोड़े, सैनिकों और नाचती लड़कियों की और मार्च करती सेना की टुकड़ियों की नक़्क़ाशियां की गई हैं। वही मंदिर के भीतरी हिस्से में ‘रामायण’ और हिन्दू देवताओं के दृश्य दिखाए गए हैं।

इसमें असंख्य पंखों वाले गरुड़ को भी चित्रित किया गया है।यहां चार नक़्क़ाशीदार ग्रेनाइट के स्तंभ है जो कि अर्द्ध मंड़प की खूबसूरती को बढ़ाते हैं। इस मंदिर की दीवारें 15वीं सदी की कला से सुशोभित हैं जो पर्यटकों का मुख्य आकर्षण का केंद्र है।

मंदिर की बाहरी दीवारों पर की गई नक़्क़ाशियां इस मंदिर की एक खास बात है। यहां भगवान बुद्ध की एक प्रतिमा स्थापित है, जो भगवान विष्णु के नौवें अवतार थे। जनानखाना और कमल महल हजारा राम मंदिर के निकट स्थित अन्य आकर्षण हैं जो पर्यटकों के दिलों को लुभाते है।

हज़ारा मंदिर के बारे में जरूरी बातें  Hazara Rama Temple:- 
हजारा राम मंदिर मुख्य रूप से जाना जाता है इसकी वास्तुकला और इसके कीमती अवशेषों के लिए। यहां आम तौर पर तापमान: अधिकतम 34° C, न्यूनतम 14° C ही रहता है।

यहां आदर्श अवधि 1-2 घंटे की है। इस अदभुत मंदिर को देखने के लिए पर्यटकों को किसी विशेष समय का इंतजार करने की कोई आवश्यकता नहीं है। यहां जाने का सही वक्त आप खुद तय कर सकते है यानी यहां साल में कभी भी जाया जा सकता है। पर नवम्बर से फरवरी इस जगह पर जाने के लिए सबसे अच्छा वक्त माना जाता है।

हज़ारा मंदिर पहुंचने के लिए –

हजारा राम मंदिर हम्पी के शाही बाड़े में स्थित है। यह एक ऐसी जगह है जिसे आम तौर पर कोई भी पर्यटक अपने हम्पी ट्रेल से नहीं चूकता है।
यहां पहुंचने की सुविधा के लिए हवाई यात्रा या रेलवे यात्रा पर्यटक अपनी सुविधा अनुसार कर सकते है। पर सबसे ज्यादा सुविधा पूर्ण सफर सड़क से किया जा सकता है।

हज़ारा राम मंदिर हम्पी बाजार से सिर्फ 3 किलोमीटर की दूरी पर है। कोई भी पर्यटक हम्पी से ऑटो लेकर हज़ारा राम मंदिर बिना किसी परेशानी के आसानी से पहुंच सकता है।

निकटतम हवाई अड्डा:  बेल्लारी हवाई अड्डा हम्पी से 36 किलोमीटर की दूरी पर)

बेलगाम (190 किमी) और बैंगलोर (353 किमी) के हवाई अड्डे हवाई मार्ग से हम्पी पहुंचने के अन्य विकल्प हैं। इन स्थानों से हम्पी पहुंचने के लिए परिवहन के अन्य साधन हैं।हवाई अड्डा से हम्पी जाने के लिए कैब और गाडियां 24 घंटे उपलब्ध होती है।

निकटतम रेलवे स्टेशन: होसपेट (हम्पी से 12 किलोमीटर की दूरी पर)

रेल द्वारा हम्पी पहुंचने के लिए निकटतम स्टेशन होसपेट में स्थित है। दोनों शहरों के बीच चलने वाली होसपेट की बसों से हम्पी आसानी से पहुंचा जा सकता है। होसपेट से हम्पी पहुंचने के लिए परिवहन के अन्य स्थानीय साधन हैं।

Hazara Rama Temple रास्ते से :
हम्पी सड़क नेटवर्क द्वारा कई कस्बों और शहरों से जुड़ा हुआ है। कई बसें हैं जो हम्पी को आसपास के स्थानों से जोड़ती हैं। हम्पी पहुंचने के लिए निजी कारों और वाहनों को बैंगलोर या मैसूर से किराए पर लिया जा सकता है।

हजारा राम मंदिर खुलने का समय, प्रवेश का समय , शुल्क और अन्य तथ्य जो यहां जाने से पहले आपको जानने जरूरी है

हजारा राम मंदिर प्रवेश –

साल भर 06:00 सुबह – 06:00 शाम
अंतिम प्रविष्टि: 05:30 सुबह
यहां जाने के लिए कोई शुल्क नहीं लिया जाता।
यहाँ आप कैमरा ले जा सकते है और फोटो खीच सकते है। यहां धूम्रपान करना और दीवारों को गंदा करना बिलकुल निषेध है ।

हज़ारा मंदिर का इतिहास –

हज़ारा मंदिर का निर्माण 15वी सदी में उस वक्त के विजयनगर के राजा देवराय II ने किया था। इसकी संरचना शुरुआत में बहुत ही साधारण सी थी। यहां शुरुआत में बस एक पवित्र स्थान, खंभों वाला हॉल और अर्धमंडप था। बाद में इस मंदिर में एक खुला बरामदा और सुंदर खंबे जोड़े गए जिसने इसकी शोभा और बड़ा दी।

हज़ारा मंदिर की विशिष्टता –

हज़ारा राम मंदिर कई पहलुओं में एक विशिष्ट मंदिर है। पहली चीज जो हमारा ध्यान आकर्षित करती है वो है इसका नाम “हज़ार राम” जिसका शाब्दिक अर्थ है एक हजार राम और ये मंदिर के शासक देवता को दर्शाने वाले अवशेषों की भीड़ को संदर्भित करता है।

मंदिर की दीवारों पर पत्थर पर उकेरी गई रामायण की कहानी है। मंदिर की बाहरी दीवारों को राम और कृष्ण के अवशेषों से सजाया गया है।

हजारा राम मंदिर की सुंदर संरचना –

मंदिर के उत्तरी भाग में एक विशाल लॉन है। दो विशाल द्वार हैं जो मंदिर परिसर तक पहुंच प्रदान करते हैं। मंदिर के आंतरिक भाग में अलंकृत स्तम्भों को तराशा गया है। तीन छेदों वाला एक खाली आसन दर्शाता है कि मंदिर में कभी राम, लक्ष्मण और सीता की मूर्तियाँ थीं। मंदिर परिसर के अंदर एक छोटा मंदिर है जिसमें समान महाकाव्य दीवार नक्काशी है। इस मंदिर की दीवारों पर भी भगवान विष्णु के चित्रण हैं। ये मंदिर विजयनगर के मूर्तिकारों के उत्कृष्ट शिल्प कौशल का एक उदाहरण है।

 Hazara Rama Temple महत्वपूर्ण चीजें :
परिसर में और उसके आसपास बहुत सारे बंदर हैं, इसलिए उनके सामान की देखभाल करने की जरूरत है ।

मंदिर के आसपास दुकानें हैं जो खीरा, बिस्कुट और आम बेचती हैं तो आप मंदिर के साथ साथ इन छोटी छोटी चीजों का आनंद ले सकते है।

पूरे मंदिर को कवर करने के लिए आवश्यक समय लगभग 1 घंटा है और बाकी आप अपनी सुविधा अनुसार अपना वक्त तय कर सकते है।

हज़ारा राम मंदिर के अलावा हम्पी में घूमने की जगहें :

विरुपाक्ष मंदिर, विजया विट्ठल मंदिर, लोटस महल, यंत्रोधरका हनुमान मंदिर, हम्पी बाजार, हिप्पी द्वीप, कोराकल राइड, क्वीन्स बाथ, मातंगा हिल, पुरातत्व संग्रहालय, रिवरसाइड खंडहर, भूमिगत मंदिर, गगन महल, हेमकुटा हिल, और कई अन्य पर्यटक स्थल।

प्राचीन खंडहरों और गौरव के रक्षक के रूप में जाना जाता है, हम्पी तुंगभद्रा नदी के किनारे स्थित एक छोटा मनोरम मंदिर शहर है। हम्पी में घूमने के लिए कई जगहें हैं, जो बीते युगों का प्रवेश द्वार है, जो आपको मध्यकालीन राजाओं और सम्राटों के शासनकाल तक ले जाती है।

ऐतिहासिक शहर विजयनगर के अवशेषों से घिरा, हम्पी खंडहरों, मोनोलिथ और शिलाखंडों का खजाना है। हम्पी पर्यटन स्थलों की बहुतायत है। 1400 वर्षों के इतिहास में डूबा हुआ हम्पी पर्यटकों, तीर्थयात्रियों और संस्कृति प्रेमियों के लिए समान रूप से दर्शनीय स्थल है। आप ऐतिहासिक हेमकुटा हिल मंदिर में विभिन्न आश्चर्यजनक मेहराबों के साथ जा सकते हैं या गगन महल के पुराने-विश्व आकर्षण का अनुभव कर सकते हैं।

हम्पी बाजार में पारंपरिक हस्तशिल्प की खरीदारी के साथ-साथ आप धार्मिक दृष्टि से महत्वपूर्ण विरुपाक्ष मंदिर भी जा सकते हैं। जहां पुरातत्व संग्रहालय में कई कलाकृतियां और अवशेष हैं, वहीं मातंगा हिल अपने खूबसूरत सूर्यास्त के लिए प्रसिद्ध है।

हम्पी में घूमने की जगहें विरुपाक्ष मंदिर, विजया विट्ठल मंदिर, लोटस महल, यंत्रोधरका हनुमान मंदिर, हम्पी बाजार, हिप्पी द्वीप, कोराकल राइड, क्वीन्स बाथ, मातंगा हिल, पुरातत्व संग्रहालय, रिवरसाइड खंडहर, भूमिगत मंदिर, गगन महल, हेमकुटा हिल, और कई अन्य पर्यटक स्थल।

Hazara Rama Temple
Written BY – मानसी जैन
mansi2219mj@gmail.com


साथियों अगर आपके पास कोई भी रोचक जानकारी या कहानी, कविता हो तो हमें हमारे ईमेल एड्रेस hindishortstories2017@gmail.com पर अवश्य लिखें!

दोस्तों! आपको “Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर” हमारा यह संकलन कैसा लगा हमें कमेंट में ज़रूर लिखे| और हमारा फेसबुक पेज जरुर LIKE करें!

यह भी पढ़ें:-

आखिर क्या है वेदवती की कहानी ?
भारत के 10 प्रसिद्ध बिरला मंदिर

Share with your friends

One Comment on “Hazara Rama Temple | हज़ारा राम मन्दिर”

  1. मुझे आपकी वैबसाइट बहुत पसंद आई। आपने काफी मेहनत की है। मैंने आपकी वैबसाइट को बुकमार्क कर लिया है। हमे उम्मीद है की आप आगे भी ऐसी ही अच्छी जानकारी हमे उपलब्ध कराते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *